Sunday, 18 October 2015

शराबी शेर शायरी

दवा सायरी

दवा है दर्द सीने में दवा उसकी दवा दी है
ऐ मेरी रानी तुने मुझे किसकी सजा दी है
माना की तुने मुझे छोड़ दिया सारी जिन्दगी के लिए
फिर भी खुदा से तेरे हँसने की दुआ की है

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.